Finance क्या है एवं इसके प्रकार कौन-कौन से हैं

0
Finance

Finance Kya Hai – दोस्तों, पैसा हमारे जीवन में बहुत ज्यादा मायने रखता है और इसी से जुड़ा शब्द है Finance. आपने यह शब्द तो बहुत बार सुना होगा क्योकि यह हमारी ज़िन्दगी से जुड़ा हुआ है, लेकिन जरुरी नहीं है कि इसका मतलब सबको मालुम हो. इसलिए आज के इस लेख में हम बताने वाले हैं कि फाइनेंस क्या होता है? और इसके कितने प्रकार होते हैं.

जब कोई बात हमें पता नहीं होती है तो हम उसे गूगल में सर्च करते हैं, लेकिन जब मैंने सर्च कर के देखा तो इसके बारे में कोई भी सही आर्टिकल नहीं लिखा गया था. इस लेख को अंत तक पढने के बाद आपका Finance के बारे से कोई भी डाउट क्लियर हो जायेगा.

Finance क्या है (What is Finance in Hindi)

Finance का हिंदी में मतलब होता है वित्त. सामान्य शब्दों में फाइनेंस पैसे को सही से इन्वेस्ट करने की कला है. अगर आप कोई व्यापार करते हैं, स्टॉक मार्केट में निवेश करते हैं या अपने पैसे को कहीं भी इन्वेस्ट करते हैं तो उस पैसे को कैसे इन्वेस्ट किया जाए की वह आपको लाभ दिला सके, इस प्रक्रिया को फाइनेंस कहा जाता है.

उदहारण के लिए आपने देखा होगा की हमारे देश के वित्त मंत्री(Finance Minister) संसद में हर साल बजट पेश करते हैं. वो यह जानते हैं की पैसे को किस तरह से इन्वेस्ट किया जाए कि उससे सरकार और जनता को लाभ मिल सके.

आपने कुछ लोगों को यह कहते भी सुना होगा की मेरी Financial Conditions ठीक नहीं चल रही है, इसका सीधा सा मतलब है की उसके पास पैसों की कमी है. अतः Finance पूरी तरह से पैसों के बारे में ही है. अब चलिए जाने लेते हैं की इसके कितने प्रकार होते हैं.

Finance के प्रकार (Types of Finance in Hindi)

Finance मुख्यतः तीन प्रकार का होता है जो क्रमशः व्यक्तिगत वित्त (Personal Finance), लोक वित्त (Public Finance) और निगम वित्त (Corporate Finance) हैं. इन तीन प्रकारों के अंतर्गत और भी कई सारे प्रकार आते हैं. उन प्रकारों को किसी अन्य लेख में बताया जायेगा. फिलहाल इन्ही तीनो को विस्तार से जान लेते हैं.

1. व्यक्तिगत वित्त (Personal Finance)

व्यक्तिगत वित्त के अंतर्गत इंसान खुद का Financial Analysis करता है. इसमें वे वित्त आते हैं जिसे कोई व्यक्ति अपने और अपने परिवार के लिए एकत्रित करता है. यह वित्त किसी व्यक्ति के पारिवारिक आय और बचत का माध्यम होता है और व्यक्ति इसे अपने निजी खर्चों के लिए इस्तेमाल करता है. यह एक तरह से बजट की तरह ही है जो परिवार की आवश्यकताओं और किये गए बचत पर निर्भर करता है.

इस वित्त में बचत की विशेष भूमिका होती है. उदहारण के लिए कोई व्यक्ति Health Insurance लेता है तो वह आने वाले जोखिम से बचने की प्लानिंग करता है, यह व्यक्तिगत वित्त के अंतर्गत आता है. पर्सनल फाइनेंस में कुछ चीजें जैसे कि Personal Insurance, सेविंग्स, रिटायरमेंट प्लानिंग, उधारी के पैसे वसूलने, टैक्स प्लानिंग आदि सम्मिलित हैं.

2. लोक वित्त (Public Finance)

लोक वित्त को सार्वजनिक वित्त के नाम से भी जाना जाता है. ऐसा वित्त जो सरकार की निगरानी में अपनी आय व खर्च का प्रबंधन करता है और जो सरकार के आंकलन में रखा जा सकता है उसे लिक वित्त कहते हैं. इसे सरकार टैक्स और अन्य सार्वजनिक माध्यमो से एकत्रित करती है. आप यह मान सकते हैं की लोक वित्त में सरकार आने और जाने वाले पैसे का हिसाब रखती है.

सरकार के पास जो पैसा आता है वह टैक्स और अन्य माध्यमो से आता है, उसके व्यय के लिए की गयी प्लानिंग लोक वित्त के अंतर्गत आता है. यह पूरी प्रक्रिया सरकार के मूल्यांकन से संपन्न होती है.

3. निगम वित्त (Corporate Finance)

निगम वित्त का इस्तेमाल बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा किया जाता है. इसे बड़ी कंपनियां अपनी पूंजी के रूप में उपयोग करती हैं जिसे पूंजी संरचना या निर्माण कहते हैं. यह वित्त बड़े बड़े उद्योगपतियों और व्यापारियों के माध्यम से कार्य में लिया जाता है. इसमें कंपनियां अपने पैसे को सहीं जगह निवेश करने की प्लानिंग करती हैं. इसके माध्यम से तैयार पूंजी को कंपनी छोटे-छोटे हिस्सों में बाँटती है जिसे Shares कहते हैं.

Corporate Finance में यह निर्णय लिया जाता है की कंपनी के शेयर होल्डर के पैसे को बिना कोई नुकसान पहुचाये उस पैसे को बढाया जा सके. निगम वित्त का कार्य Money Collection और Banking Collection तक का होता है.

Top 15 Finance Companies in India

यहाँ हम भारत के कुछ फेमस और पोपुलर फाइनेंस कंपनियों की लिस्ट दे रहे हैं ताकि आपको एक आईडिया लग जाए की फाइनेंस क्या होता है.

  1. LIC Housing Finance Limited.
  2. Muthoot Finance Limited.
  3. Bajaj Finance Limited.
  4. L&T Infrastructure Finance Corporation Limited.
  5. Mahindra Financial Services Limited.
  6. Housing Development Finance Corporation Limited. (HDFC)
  7. TATA Capital Financial Services Limited.
  8. HDB Financial Services.
  9. Cholamandalam Finance.
  10. Kotak Mahindra Prime Limited.
  11. Shriram City Union Finance Limited.
  12. Indian Railway Finance Corporation Limited.
  13. Shriram Transport Finance Company Limited.
  14. Rural Electrification Corporation Limited.
  15. Aditya Birla Finance Limited.

अंतिम शब्द

हमने आपको Finance के बारे में बिलकुल सरल शब्दों में बताने की कोशिश की है, साथ ही उसके प्रकारों के बारे में भी बताया है. आपको हमारा यह लेख Finance Kya Hai कैसा लगा हमें Comment में बताएं. इसके साथ ही लेख पसंद आये तो नीचे दिए गए Sharing Buttons की सहायता से इस लेख को शेयर जरुर करें.

Previous articleLoan क्या है, जानिये भारत में मिलने वाले लोन के प्रकार
दोस्तों मै Harsh Lahre इस Loans Apply ब्लॉग का फाउंडर हूँ. इस ब्लॉग में हम लोन, इन्शुरन्स, फाइनेंस और बैंकिंग से जुडी जानकारियाँ प्रोवाइड करते हैं. आप ऐसे ही इस ब्लॉग में विजिट करते रहें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here